Archive for January, 2013

अब मुझे रात दिन मुलायम सिंह यादव के पोती, कांशी राम जी के पुनर्जन्म या राहुल गाँधी के बेटी का इंतज़ार है

January 1, 2013

उत्तर प्रदेश कि ग्रामीण जनता के मन में जाति-पाति ने इस तरह से घर कर लिया है कि उनको इसके आगोश से किसी भी तरह कि शिक्षा बाहर नहीं निकाल सकती | वे हर पल जाति आधारित परंपरा को जीते हैं और उनका ब्रेन-वाश करना आसान ही नहीं, नामुमकिन है | उदहारण के लिए आप उत्तर प्रदेश एवं बिहार के नामी गिरामी पार्टियों के मुखियाओं, नेताओं या गाँव के किसी बुजुर्ग से बात कर सकते हैं। अतः उत्तर प्रदेश में सपा या बसपा का कोई विकल्प लाना मुश्किल लगता है | हमें लगता है कि लोगों की जाति आधारित सोच ऐसे ही कायम रही तो उत्तर प्रदेश में कभी सपा की तो कभी बसपा की ही सरकार रहेगी | चूँकि उत्तर प्रदेश ने मुलायम सिंह, उनके भाईयों, उनके बेटे और बहु को झेल लिया है और ऐसा लगता है कि इनके रहते उत्तर प्रदेश की हालत में कोई सुधार नहीं होने वाला है, अतः अब हमें उनके परिवार से किसी और सदस्य को देखना बाकी है | चूँकि ग्रामीण जनता और किसी दूसरे को मौका नहीं देने वाली अतः मुझे अब मुलायम सिंह के पोती का ही इंतज़ार है ताकि वही मुख्यमंत्री बनने के बाद कुछ ऐसा करे की उत्तर प्रदेश की तस्वीर बदल जाय | यदि उसने ऐसा नहीं किया तो उनके परपोती/परपोते का इंतज़ार रहेगा, लेकिन मैं इंतज़ार करता रहूँगा क्योंकि मेरे पास इसके अलावा कोई चारा भी तो नहीं है | दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश ने बसपा राज को भी देख लिया है | उन्होंने उत्तर प्रदेश की हालात में रत्ती भर भी बदलाव नहीं लाया | अतः अब मुझे एक बार फिर कांशी राम जी के अवतार का इंतज़ार है ताकि यदि जाति आधारित जनता बसपा को विजय दिलाती है तो शायद वे उत्तर प्रदेश की तस्वीर बदल सकें | राहुल गाँधी अपनी सभाओं में बोलते रहते हैं की युवा आगे आयें और व्यवस्था परिवर्तन के लिए कांग्रेस का साथ दें | तकरीबन दस साल से युवाओं ने राहुल गाँधी को लगातार मौका दिया है लेकिन अब तक क्या किया? मेरे ख्याल से तो पांच साल ही काफी होते हैं किसी भी तरह की व्यवस्था परिवर्तन के लिए | अभी हाल ही में युवा आगे आकर ‘जन लोक-पाल बिल’ की मांग किये तो कांग्रेस के मत्रियों ने उसका क्या हश्र किया, सबको मालूम है | राहुल गाँधी आम जनता को कब तक बेवकूफ बनाते रहेंगें? राहुल गाँधी सिर्फ मौका चाहते है, लेकिन करना कुछ नहीं चाहते | राहुल गाँधी ने स्वर्णिम अवसर खो दिया और अब उनमें मुझे उम्मीद की कोई किरण नजर नहीं आती | अब तो हमें उनकी बेटी का इंतज़ार है कि वही अब शायद भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाकर इस देश की व्यवस्था में परिवर्तन करे | आमीन…बाकी इश्वर की महिमा |

Youtube परहिंदीमेंभाषण:

Part 1 – http://www.youtube.com/watch?v=qj6GcVJy7Ro

Part 2 – http://www.youtube.com/watch?v=ibm3EItawUw&feature=relmfu

Check here for the copy of speech to read and disseminate.

भ्रष्टाचार मिटाओ सेना के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए पढ़ें – https://vinay1340.wordpress.com/bhrastachar-mitao-sena/


%d bloggers like this: